Friday, October 29, 2010

ईलाज ठीक चल रहा है ~~

image

मंगतू बीमार हो गया. आनन-फानन में उसे अस्पताल पहुँचाया गया. अस्पताल में अब उसके स्वास्थ्य में उत्तरोत्तर सुधार हो रहा है.  जब डाँक्टर से उसके बीमारी के बारे में पूछा गया तो डाँक्टर ने बताया कि :

'मंगतू के शरीर के आंतरिक अवयव मिलावटी भोज्य पदार्थ को ग्रहण करने और पचाने के आदी हो चुके हैं. शायद उसने किसी दिन विशुद्ध भोजन कर लिया होगा और बीमार हो गया.'

यह पूछने पर कि अस्पताल में आकर इतनी जल्दी कैसे ठीक हो गया तो डाँक़्टर ने जो बताया वह कम चौकाने वाला नहीं है :

'हमने यहाँ पर उसे एक नकली और मिलावटी इंजेकशन  लगा दिया और उसके भोजन को मिलावटी बना दिया गया है साथ ही प्रदूषित आक्सीजन का मास्क भी लगाया गया है.'

मुझे लगा ईलाज ठीक चल रहा है.

7 comments:

Coral said...

हा हा हा :).... अब आने वाले दिनों में यही होगा !
देश ठीक चल रहा है - बढ़िया

सतीश सक्सेना said...

यह सही रही ....

Majaal said...

कल्पनाओं को सकारात्मक रखे तो बेहतर जनाब, सुना है ये मुई कल्पना ही धीरे धीरे हकीकत बनती है ....
व्यंग्य तो बढ़िया है .. लिखते रहिये ...

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

बिलकुल सही ..आज यदि शुद्ध भोजन मिल जाये तो पचाना भी मुश्किल है ...

अरुण चन्द्र रॉय said...

गम्भीर व्यन्ग्य .. प्रभावशाली

Jyoti said...

बढ़िया व्यंग्य

विनोद कुमार पांडेय said...

जैसी बीमारी वैसी इलाज.. अब ठीक हो जाएगा..बढ़िया लघुकथा..बधाई

विश्व रेडक्रास दिवस

विश्व रेडक्रास दिवस
विश्व रेडक्रास दिवस पर कविता पाठ 7 मई 2010

हिन्दी दिवस : काव्य पाठ

हिन्दी दिवस : काव्य पाठ
हिन्दी दिवस 2009

राजस्थान पत्रिका में 'यूरेका'

राजस्थान पत्रिका में 'यूरेका'

हमारी वाणी

www.hamarivani.com

ब्लागोदय


CG Blog

एग्रीगेटर्स

आपका पता

विजेट आपके ब्लॉग पर

ब्लागर परिवार

Blog parivaar

लालित्य

ग्लोबल भोजपुरी