Wednesday, May 26, 2010

अभी तो साहब आराम कर रहे हैं ~~

ये मत समझो कि दुबके हुए है डरकर

आजकल साहब बहुत काम कर रहे हैं

कुछ पल तो सुकून लेने दो, कल आना

थके हुए हैं अभी वो आराम कर रहे हैं

 

image

14 comments:

Shah Nawaz said...

हा हा हा. बहुत बढ़िया प्रस्तुति. :)

बहुत खूब!

दिलीप said...

ha ha ha bahutahi badhiya...

sangeeta swarup said...

हा हा हा ...साहब...साहब का आराम लाजवाब है

पी.सी.गोदियाल said...

अपना-अपना भाग्य !

Razia said...

बहुत मजेदार
आराम का मामला है

माधव said...

हा हा हा........................

डॉ टी एस दराल said...

छोटे साहब ऐसे आराम से सोते हैं
बड़े साहब अक्सर बाथरूम में होते हैं ।

honesty project democracy said...

वर्मा साहब आज कुत्तों की ही मौज है ,इन्सान की क्या औकात है / सच्ची सार्थक प्रस्तुती आज के सन्दर्भ में /

शेफाली पाण्डे said...

vaah kya andaaz hain....

Kumar Jaljala said...

ैक्या आप जानते है.
कौन सा ऐसा ब्लागर है जो इन दिनों हर ब्लाग पर जाकर बिन मांगी सलाह बांटने का काम कर रहा है।
नहीं जानते न... चलिए मैं थोड़ा क्लू देता हूं. यह ब्लागर हार्लिक्स पीकर होनस्टी तरीके से ही प्रोजक्ट बनाऊंगा बोलता है। हमें यह करना चाहिए.. हमें यह नहीं करना चाहिए.. हम समाज को आगे कैसे ले जाएं.. आप लोगों का प्रयास सार्थक है.. आपकी सोच सकारात्मक है.. क्या आपको नहीं लगता है कि आप लोग ब्लागिंग करने नहीं बल्कि प्रवचन सुनने के लिए ही इस दुनिया में आएं है. ज्यादा नहीं लिखूंगा.. नहीं तो आप लोग बोलोगे कि जलजला पानी का बुलबुला है. पिलपिला है. लाल टी शर्ट है.. काली कार है.. जलजला सामने आओ.. हम लोग शरीफ लोग है जो लोग बगैर नाम के हमसे बात करते हैं हम उनका जवाब नहीं देते. अरे जलजला तो सामने आ ही जाएगा पहले आप लोग अपने भीतर बैठे हुए जलजले से तो मुक्ति पा लो भाइयों....
बुरा मानकर पोस्ट मत लिखने लग जाना. क्या है कि आजकल हर दूसरी पोस्ट में जलजला का जिक्र जरूर रहता है. जरा सोचिए आप लोगों ने जलजला पर कितना वक्त जाया किया है.

दीपक 'मशाल' said...

वो गाना याद आ गया की कहीं पे निगाहें कहीं पे निशाना.. :) बेहतरीन

Udan Tashtari said...

बहुत सटीक...नींद डिस्टर्ब तो काट खायेंगे साहब जी.

संजय भास्कर said...

.साहब का आराम लाजवाब है

संजय भास्कर said...

aaraam jaroori bhi hai....

विश्व रेडक्रास दिवस

विश्व रेडक्रास दिवस
विश्व रेडक्रास दिवस पर कविता पाठ 7 मई 2010

हिन्दी दिवस : काव्य पाठ

हिन्दी दिवस : काव्य पाठ
हिन्दी दिवस 2009

राजस्थान पत्रिका में 'यूरेका'

राजस्थान पत्रिका में 'यूरेका'

हमारी वाणी

www.hamarivani.com

ब्लागोदय


CG Blog

एग्रीगेटर्स

आपका पता

विजेट आपके ब्लॉग पर

ब्लागर परिवार

Blog parivaar

लालित्य

ग्लोबल भोजपुरी