Wednesday, August 12, 2009

दिल बहलता नहीं तो मै क्या करूँ ~

~~~~
कसरत करके डोले बना लीजिए
सुबह-शाम नाश्ते में चना लीजिए
*
पेट के मरीज़ो सुनो मेरी बात
सुबह-सुबह पानी गुनगुना लीजिए

*
खून की कमी है आपके शरीर में
आप तो
महुए का तना लीजिए
*
मधुमेह या रक्तचाप है तो भाई
खाने में अपने
सहजना लीजिए
*
दिल बहलता नहीं तो मै क्या करूँ
आप अपने लिये झुनझुना लीजिए

*
बोल्ड / इटालिक पर चटका लगाकर देखें

19 comments:

Raviratlami said...

ये तो बढ़िया व्यंज़ल बन गया है!

Razia said...

चिकित्सक महोदय
ये दिल वाला झुनझुना कहाँ मिलता है.
आप तो डाक्टरो के भी डाक्टर निकले
बहुत खूब

M VERMA said...

रजिया जी
इस झुनझुने की तलाश तो आपको खुद करनी होगी.

ओम आर्य said...

bahut hi sundar jhunjhuna wali baat ....bahut bahut badhaaee

रंजना [रंजू भाटिया] said...

sahi bahut khub tareeka kahne ka shukriya

विनोद कुमार पांडेय said...

अरे वाह आप तो डाक्टर बन गये..
वैसे बिल्कुल सत्य कहा आपने...नुक्से बेहतर है अगर लोग उपयोग करे तो..

दिल बहलता नहीं तो मै क्या करूँ
आप अपने लिये झुनझुना लीजिए
मजेदार!!!

mehek said...

bahut sahi baat,mast.

अमिताभ मीत said...

सही है डाक्साब. भौत बढ़िया.

विनय ‘नज़र’ said...

खूब भालो

AlbelaKhatri.com said...

aaj toh aapne kamaaal kar diya
waah
waah
bahut khoob !

'अदा' said...

वाह वाह....
इस कहते है 'आम के आम और गुठलियों के दाम' बहुत बढ़िया रही आपकी कविता...और यकीन कीजिये आपके बताये नुस्खे बहुत काम के हैं...काम आ ही जायेंगे आज नहीं तो कल..
और हाँ वर्मा जी वो तोंद वाला फिरंगी कहाँ मिला आपको...ऐसा पेट तो हमने कही नहीं देखा ..
हा हा हा हा हा

अनिल कान्त : said...

वाह जी वाह

अर्शिया अली said...

Shaandaar Gazal.
{ Treasurer-S, T }

Babli said...

अत्यन्त सुंदर! श्री कृष्ण जनमाष्टमी की हार्दिक शुभकामनायें!

विवेक सिंह said...

श्री कृष्ण जन्माष्टमी की बहुत बहुत शुभकामनाएं !

विनय ‘नज़र’ said...

श्री कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएँ। जय श्री कृष्ण!!
----
INDIAN DEITIES

somadri said...

wah wah, kya likha hai aapne.. agar man dole to phir ??
blogging ki dunia me vichran kijie


http://som-ras.blogspot.com

Prem Farrukhabadi said...

कसरत करके डोले बना लीजिए
सुबह-शाम नाश्ते में चना लीजिए

bahut hi uyogi manmohak rachna. badhai!!

महफूज़ अली said...

bahut sahi........... achcha laga

विश्व रेडक्रास दिवस

विश्व रेडक्रास दिवस
विश्व रेडक्रास दिवस पर कविता पाठ 7 मई 2010

हिन्दी दिवस : काव्य पाठ

हिन्दी दिवस : काव्य पाठ
हिन्दी दिवस 2009

राजस्थान पत्रिका में 'यूरेका'

राजस्थान पत्रिका में 'यूरेका'

हमारी वाणी

www.hamarivani.com

ब्लागोदय


CG Blog

एग्रीगेटर्स

आपका पता

विजेट आपके ब्लॉग पर

ब्लागर परिवार

Blog parivaar

लालित्य

ग्लोबल भोजपुरी