Thursday, November 10, 2011

कृपया अनुमान लगायें ये किससे बात कर रहे होंगे

राह/भीड़ मे खो जाने का खतरा

संग अपने मोबाईल रक्खो ..

चित्र 1

image

चित्र 2

image

10 comments:

Sunil Kumar said...

और सड़क परिवहन की नियमों को ताक पर :):):

देवेन्द्र पाण्डेय said...

(1) अरे अपना पता बताइये..? कहाँ हैं आप..? माल कहां पहुंचाना है..
(2) सीधे चले आओ..मैं बाइक लेकर बस पहुंच ही रहा हूँ।

DR. ANWER JAMAL said...

Nice !!!

कविता रावत said...

ye un insason se baat kar rahen hai jinhen sirf apni chinta hai..baki logon ke jindagi se jinhe koi sarokar nahi..
badiya saarthak jan jaagruk karti prastuti ke liye aabhar!

डॉ टी एस दराल said...

कुछ नहीं बस आम लोगों की खास स्टाइल है ।
जन्मदिन की बधाई और शुभकामनायें वर्मा जी ।

Ratan Singh Shekhawat said...

ये इसी तरह लगे रहे तो एक दिन इनका मोबाइल यमराज से जरुर जुड जायेगा|

Gyan Darpan
Matrimonial Site

"जाटदेवता" संदीप पवाँर said...

अच्छी फ़ोटो दिखाई

Say Cheese said...

भारत की सडकों का आम नज़ारा! जाने क्यों इतनी सी बात लोगों की समझ नहीं आती की यातायात के नियमो की पालना करने से उनका ही हित है|

dinesh aggarwal said...

शायद भविष्य में होने वाली दुर्घटना से......
या यमराज के किसी दूत से......
कृपया इसे भी पढ़े-
नेता- कुत्ता और वेश्या(भाग-2)

अविनाश वाचस्‍पति अन्‍नाभाई said...

अनुमान क्‍या लगाना
पक्‍का है
मोबाइल से बात कर रहे हैं
मोटर साईकिल से तो
बात करने से रहे
न करेंगे रूमाल से
न मौसम से

विश्व रेडक्रास दिवस

विश्व रेडक्रास दिवस
विश्व रेडक्रास दिवस पर कविता पाठ 7 मई 2010

हिन्दी दिवस : काव्य पाठ

हिन्दी दिवस : काव्य पाठ
हिन्दी दिवस 2009

राजस्थान पत्रिका में 'यूरेका'

राजस्थान पत्रिका में 'यूरेका'

हमारी वाणी

www.hamarivani.com

ब्लागोदय


CG Blog

एग्रीगेटर्स

आपका पता

विजेट आपके ब्लॉग पर

ब्लागर परिवार

Blog parivaar

लालित्य

ग्लोबल भोजपुरी