Monday, May 10, 2010

चलो योग करें .... चित्रकथा

चलो योग करें

image

शुरू करो सूर्य नमस्कार से

जोड़ लो खुद को संस्कार से

image

फिर ताड़ासन की बारी है

यह आसन रक्त संचारी है

image

कुछ तो करना होगा क्योंकि

अपना तो बदन बहुत भारी है

image

सौन्दर्य प्रतियोगिता में जाना है

मुझको तो प्रथम स्थान पाना है

image

नित करो अगर तुम योग

तन-मन का हर लेगा यह रोग

image

गरूणासन से स्लिम बन जाऊँगी

फिर चूहों के पीछे दौड़ लगाऊँगी

 

7 comments:

देव कुमार झा said...

मस्त है...

sumit said...

are ye kaya cat ki jagah agar hamare purvaj hote to yog ka maja hi aa jata

Mithilesh dubey said...

हाहाहाहा बहुत खूब ।

sangeeta swarup said...

चित्र और उस पर लिखीं पंक्तियाँ बहुत भायीं :):)

ललित शर्मा said...

हाहाहाहा हाहाहाहा हाहाहाहा हाहाहाहा

Razia said...

मजा आ गया
बहुत सुन्दर

माधव said...

कुत्ते से भी अच्छा योग

विश्व रेडक्रास दिवस

विश्व रेडक्रास दिवस
विश्व रेडक्रास दिवस पर कविता पाठ 7 मई 2010

हिन्दी दिवस : काव्य पाठ

हिन्दी दिवस : काव्य पाठ
हिन्दी दिवस 2009

राजस्थान पत्रिका में 'यूरेका'

राजस्थान पत्रिका में 'यूरेका'

हमारी वाणी

www.hamarivani.com

ब्लागोदय


CG Blog

एग्रीगेटर्स

आपका पता

विजेट आपके ब्लॉग पर

ब्लागर परिवार

Blog parivaar

लालित्य

ग्लोबल भोजपुरी